लोक अदालत
फिरोजाबाद। जिला जज राजेन्द्र कुमार की अध्यक्षता में जनपद न्यायालय में राष्ट्रीय लोक अदालत सम्पन्न हुई। जिसमें 12070 राजस्व वादों के साथ 16164 वादों का निस्तारण कराया गया।
निस्तारण कर समझौते की धनराशि लगभग 32 करोड़ 46 लाख रूपये तय की गई। डीएम
नेहा शर्मा के निर्देशन में तय किये गये राजस्व वादों की संख्या 12070 रही।
जिनमें लगभग 15 लाख 31 हजार समझौते की धनराशि तय हुयी। राष्ट्रीय लोक अदालत के अवसर पर जनपद न्यायालय सभागार में आयोजित कार्यक्रम में सर्वप्रथम डीएम नेहा शर्मा द्वारा मां सरस्वती जी की प्रतिमा का अनावरण किया गया,
उसके पश्चात एसएसपी सचिन्द्र पटेल द्वारा दीप प्रज्ज्वलित किया। तत्पश्चात अध्यक्ष-जिला जज, द्वारा मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण एवं बार के अध्यक्ष जाहर सिंह यादव द्वारा भी मां सरस्वती जी के चित्र पर माल्यार्पण किया गया।
इस अवसर पर कस्तूरबा गांधी आवासीय विघालय सिविल लाइंस दबरई की बालिकाओं शालू, निशा, बबीता, रूचि, सौनाली, पायल आदि द्वारा सरस्वती जी की वंदना प्रस्तुत की गयी।
माननीय अध्यक्ष-जिला जज ने अपने सम्बोधन में पक्षकारान से कहा कि वह अपने मामले सुलह समझौते से निस्तारित करायें इससे आपकी समय व धन की बचत होती है तथा आपस में वैमनस्यता भी समाप्त हो जाती है।
उन्होंने न्यायिक व प्रशासनिक अधिकारियों से भी अधिक से अधिक वाद निस्तारित कराए जानें की अपेक्षा की।

डीएम नेहा शर्मा ने इस अवसर पर कहा की पीड़ितों को एक ही दिन में त्वरित गति से न्याय मिल जाता है जो कि अपने आप में लोक अदालत का सबसे बड़ा लाभ है।
उन्होंने राजस्व के न्यायालयों द्वारा अधिक से अधिक वाद निस्तारित कराए जानें हेतु आश्वासन दिया।
एसएसपी सचिन्द्र पटेल द्वारा भी अपना पूर्ण सहयोग प्रदान करनें का आश्वासन दिया। बार के अध्यक्ष जाहर सिंह यादव ने सभी अधिवक्ताओं का पूरा सहयोग प्रदान करनें का आश्वासन दिया।
यह भी पढ़ें: पाक गोलीबारी में शहीद हुए राजेश का हुआ अंतिम संस्कार
इस अवसर पर सीजेएम अरविन्द कुमार यादव, अपर जिला जज एवं नोडल अधिकारी राकेश कुमार, पुलिस अधीक्षक ग्रामीण,
महेन्द्र कुमार, अपर जिला जज मीता सिंह सहित सम्बन्धित न्यायिक व प्रशासनिक अधिकारी मौजूद रहें।

मो० सनी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.