EVM यूनिट
मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, बारां जिले के किशनगंज के शाहाबाद विधानसभा क्षेत्र में मतदानकर्मियों की लापरवाही सामने आयी है। शाहाबाद थाना क्षेत्र के मुगावली रोड पर एनएच 27 पर एक सीलबंद ईवीएम लावारिस हालत में पड़ा मिला।
मतदान के बाद ईवीएम को सील कर दिया गया था। ईवीएम पर सील लगी हुई थी, इससे अनुमान लगाया जा रहा है कि इसका इस्तेमाल दिन में हुए मतदान के लिए किया गया है। इस मामले में दो अधिकारियों को सस्‍पेंड कर दिया है।
राजस्थान में शुक्रवार को विधानसभा चुनावों के लिए मतदान समाप्त हो गया। 2290 उम्मीदवारों की किस्मत अब ईवीएम में कैद हो चुकी है। लेकिन इसी बीच ईवीएम को सुरक्षा को लेकर भी सवाल खड़े हो गए है। राज्य के बारां जिले में राष्ट्रीय राजमार्ग पर एक सीलबंद ईवीएम मिला है। हालांकि उसके साथ किसी तरह की छेड़खानी की कोई खबर नहीं है।
ईवीएम मिलने की सूचना स्थानीय लोगों ने प्रशासन को दी। मौके पर पहुंचकर शाहबाद पुलिस थाना अधिकारी नारायण राम ने मशीन को कब्जे में ले लिया। पुलिस ने चुनाव अधिकारियों को इस बारे में सूचित कर दिया है। इस बीच पाली विधानसभा क्षेत्र के रिटर्निंग ऑफिसर महावीर का ट्रांसफर कर दिया गया और
यह भी पढ़ें: जनादेश बता देगा …मोदी ढल रहे है…शाह उग रहे है…राहुल गढ रहे है !
उनकी जगह जोधपुर से राकेश ने पाली के रिटर्निंग ऑफिसर का चार्ज ले लिया है। जाहिर है कि इस क्षेत्र में और मतदान के दौरान ईवीएम के साथ छेड़खानी की खबरें आईं थी। इसके अलावा पाली, नागौर, झालावाड़ और बीकानेर के जिलों से भी ऐसी ही खबरें आयी थी।

गौरतलब है कि राजस्थान की 199 सीटों के लिए शुक्रवार को मतदान संपन्न हो गया। निर्वाचन आयोग से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार राज्य में 72.62 प्रतिशत मतदान हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.