कमल संदेश
इटावा। पुलिस ने इस प्रकरण में भाजपा जिलाध्यक्ष की तहरीर पर पूर्व ब्लॉक प्रमुख पर केस दर्ज किया है। वहीं, आरोपी पूर्व ब्लॉक प्रमुख ने अपने को निर्दोष बताते हुए पुलिस पर सत्ता का दबाव बनाने का आरोप लगाया है।
बकेवर इलाके के बहेड़ा गांव में भाजपा के कमल संदेश यात्रा के दौरान दो गुटों में मारपीट व हवाई फायरिंग का मामला सामने आया है। पूरे घटनाक्रम का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है।
तीन माह पूर्व हुए ब्लॉक प्रमुख व सपा नेता प्रमोद यादव के खिलाफ भाजपा जिलाध्यक्ष ने अविश्वास प्रस्ताव लाया था। जिला अध्यक्ष शिवमहेश दुबे और भरथना की विधायक सावित्री कठेरिया ने नेता अशोक चौबे की पत्नी को अपना समर्थन देकर चुनाव में मैदान में उतारा था,
लेकिन इससे नाराज कार्यकर्ता गोविंद त्रिपाठी, भाजपा प्रत्याशी के खिलाफ मैदान में उतर गए थे। हालांकि गोविंद त्रिपाठी को हार का सामना करना पड़ा था।
मंगलवार को भाजपा की तरफ से बकेवर के बहेड़ा गांव में कमल संदेश यात्रा का आयोजन चल रहा था। तभी गोविंद त्रिपाठी व उनके समर्थक, जिलाध्यक्ष शिव महेश दुबे, सावित्री कठेरिया का विरोध करने लगे।
उसके बाद दोनों के समर्थक आपस मे भिड़ गए। उसके बाद जमकर लाठी डंडे और हवाई फायरिंग हुई। जिसमें भाजपा का एक कार्यकर्ता जख्मी हो गया। इस घटनाक्रम का वीडियो बुधवार को सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। 
पूर्व ब्लॉक प्रमुख प्रत्याशी गोविंद त्रिपाठी ने बुधवार को एसएसपी से मिलने उनके ऑफिस पहुंचे। मुलाकात के बाद गोविंद त्रिपाठी ने कहा कि, हम सिर्फ जिलाध्यक्ष और विधायक का विरोध कर रहे थे,
लेकिन उनके समर्थकों ने हमला कर दिया। हवाई फायरिंग भी की गई। हमारी रिपोर्ट नही लिखी गई। जबकि पार्टी के दवाब में आकर मेरे विरोध रिपोर्ट लिख ली गयी है।
वहीं, जिलाध्यक्ष ने समर्थकों के साथ बकेवर थाना पहुंचकर गोविंद त्रिपाठी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है।
यह भी पढ़ें: आयकर विभाग ने चांदनी चौक में छापा मारकर हवाला रैकेट का किया पर्दाफाश, मिले तहखानों में 180 बेनामी लॉकर्स
जिलाध्यक्ष ने बताया कि गोविंद त्रिपाठी और उसके समर्थकों ने हमला किया है। सीओ विकास जायसवाल का कहना है कि पूरे मामले की जांच करवाकर कार्रवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here