अराजकता
लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव राजेन्द्र चौधरी ने कहा है कि उत्तर प्रदेश अराजकता की आग में झुलस रहा है जबकि पूरी उत्तर प्रदेश सरकार दूसरे राज्यों में भाजपा के लिए वोट मांगने में व्यस्त है।
भाजपा सरकार इन हालातों से बेखबर रोम के बादशाह नीरो की तरह बंशी बजा रहे हैं। जनता डर और दशहत में है। प्रशासनिक व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई है।
चौधरी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में भाजपा की राज्य सरकार बने 20 माह हो चुके हैं। इस अवधि में राज्य के विकास की कोई ठोस योजना सामने नहीं आई। लगता है कि
इस सरकार का यही एक एजेण्डा है कि दूसरे राज्यों में भाजपा कैसे सत्ता हथिया ले। भाजपा के लिए तो उत्तर प्रदेश एक चुनाव कार्यालय बनकर रह गया है।
उत्तर प्रदेश में अपराधों में वृद्धि के कारण देश-दुनिया में इसकी बदनामी हो रही है। निवेशक भाग रहे हैं। लोग अपने को असुरक्षित और असहाय समझ रहे हे। कानून व्यवस्था बुरी तरह ध्वस्त है।
चौधरी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में अपराधियों के हौंसले इतने बुलन्द हैं कि वह पुलिस पर हमला करने से भी नहीं चूक रहे हैं। बुलंदशहर में स्याना थाने के इंस्पेक्टर की हत्या जिस निर्ममता से की गई, उससे स्पष्ट है कि
भाजपा सरकार की कोई प्रतिष्ठा नहीं रह गई है। पुलिस का मनोबल बुरी तरह गिर गया है। उत्तर प्रदेश अपराधियों, अराजकतत्वों का चारागाह बन रहा है।
चौधरी ने कहा कि कोई दिन ऐसा नहीं जाता जब राजधानी लखनऊ सहित अन्य जिलों में हत्या, लूट, बलात्कार की घटनाएं न घटती हों। अपराध के बड़े मामलों में 95 प्रतिशत पश्चिमी उत्तर प्रदेश में दर्ज हुए हैं।
लखनऊ महानगर में भाजपा नेता की हत्या हुई तो कानपुर में कुल्हाड़ी से हत्या कांड हो गया। आज़मगढ़ में फायरिंग हुई तो आगरा में दो बच्चियों के साथ दरिंदगी की घटनाएं हुई। लूट, खसोट की तो तमाम घटनाएं आम है।
चौधरी ने कहा कि भाजपा ने जिस तरह से समाज को बांटने और नफरत फैलाने का काम किया है उसके तनाव से प्रदेश में शांति व्यवस्था को सबसे ज्यादा खतरा पैदा हुआ है।
सांप्रदायिक तत्वों के उभार से हिंसा की घटनाएं बढ़ी हैं। अफवाहों पर ‘माबलिंचिंग‘ की घटनाएं हो रही है। समाज का सारा ताना बाना छिन्नभिन्न हो चला है।
यह भी पढ़ें: पुरानी रंजिश में भाजपा नेता की हत्या, हत्यारोपित गिरफ्तार
भाजपा ने प्रदेश का सम्पूर्ण वातावरण विषाक्त कर दिया है। जनता इससे निजात पाने के लिए व्याकुल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.