मनमोहन
पूर्व पीएम मनमोहन सिंह से जब मनीष तिवारी की किताब ‘फेबल्स ऑफ फ्रैक्चर्ड टाइम्स’ के विमोचन के दौरान राजनेताओं की भाषा के स्तर पर राय मांगी गई तो उन्होंने कहा, “प्रधानमंत्री को मेरी सलाह है कि वह संयम बरतें जो प्रधानमंत्री की तरह हो।
प्रधानमंत्री जब उन राज्यों में जाते हैं जहां भाजपा का शासन नहीं है तब उनका दायित्व होता है कि वह उस तरह की भाषा का इस्तेमाल न करें जिसका अब आमतौर पर व्यवहार हो रहा है।” इस मौके पर जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारुख अब्दुल्ला भी मौजूद रहे।
देश में चुनावी माहौल के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है। नेता एक दूसरे पर वार-पलटवार करने का कोई मौका नहीं चूक रहे। इसी बीच पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने वर्तमान प्रधामंत्री नरेंद्र मोदी को सलाह देते हुए कहा कि, उन्हें पद की गरिमा बरकरार रखनी चाहिए।
उन्होंने कहा कि, पीएम मोदी को गैर भाजपा शासित राज्यों के दौरे के दौरान संयम बरतकर अपने आचरण के जरिये एक मिसाल कायम करनी चाहिए। मनमोहन सिंह ने मनीष तिवारी की किताब ‘फेबल्स ऑफ फ्रैक्चर्ड टाइम्स’ के विमोचन के दौरान ये बातें कही।

कार्यक्रम के दौरान मनमोहन सिंह ने कहा कि उन्होंने और कांग्रेस की अगुवाई में संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन की सरकार ने कभी उस तरह का भेदभाव नहीं किया जिस तरह का व्यवहार मोदी रोज कर रहे हैं। साथ ही उन्होंने कहा, “हमने भाजपा शासित राज्यों के साथ कभी भेदभाव नहीं किया। शिवराज सिंह चौहान खुद इस बात का सत्यापन कर सकते हैं। हमने वह सम्मान दिया जिसके वह अधिकारी थे।”
यह भी पढ़ें: राहुल गांधी बना रहे अनिल अंबानी को निशाना, उधर कपिल सिब्‍बल कर रहे रिलायंस की पैरवी
पूर्व पीएम ने नरेंद्र मोदी को लेकर कहा कि, “वह सभी भारतवासियों के प्रधानमंत्री हैं। उनका आचरण अवश्य योग्य होना चाहिए और प्रधानमंत्री के तौर पर उनके दायित्व के अनुरूप होना चाहिए।” गौरतलब है कि इसके पहले भी मनमोहन सिंह ने पीएम मोदी पर हमला करते हुए कई आरोप लगाए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here