लखनऊ के
लखनऊ,। थाना गोमतीनगर क्षेत्र के हुसडिय़ा (चंद्रशेखर आजाद) चौराहा के पास भवन की इमारत जमीन पर गिरने के कारण बगल की बिल्डिंग में आग भी लग गई। जिसके कारण उस पूरे क्षेत्र में अफरा-तफरी मच गई। लोग अपने घर से निकलकर बाहर भागने लगे।
 गोमतीनगर के विराम खंड के 5/21 के हाउसिंग प्लाट में अवैध निर्माण किया गया था। आवासीय का नक्शा पास कराने के बाद यहां पर व्यावसायिक निर्माण कराया जा रहा था। इस घटना के बाद अब एलडीए जागा है। इस घटना की रिपोर्ट मांगी गई है।

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के सबसे पॉश एरिया में शुमार गोमतीनगर में आज दिन में एक बिल्डिंग भरभराकर गिर गई। काफी व्यस्त माने जाने वाले हुसडिय़ा चौराहा पर इस बिल्डिंग के गिरने से चारों तरफ सनसनी फैल गई।
लखनऊ के गोमती नगर थाना क्षेत्र में जीवन प्लाजा काम्पलेक्स के पास एक बिल्डिंग की छत गिर जाने से खलबली मच गई। छत गिरने से लोग भयभीत हो गए। इसकी सूचना लोगों ने पुलिस को दी। बिल्डिंग गिरने से किसी के हताहत होने की अभी कोई खबर नहीं है। बिल्डिंग गिरने से हुए धमाके के बाद पड़ोस के घर में आग लग गई।

सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और आनन-फानन में लोगों की मदद से मलबा हटाया और उसमें घायलों को बाहर निकाला। पुलिस ने सभी घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया। रोड पर गिरे मलबे को हटाने का काम स्थानीय लोग कर रहे थे। पुलिस राहत एवं बचाव का कार्य कर रही है।
बिल्डिंग के मालिक गोरखपुर निवासी भाजपा नेता अशोक कुमार पांडेय हैं। बिल्डिंग गिरने से पड़ोसी डॉ बीएल रस्तोगी के मकान में आग लग गई। हुसडिया चौराहे के पास जीवन प्लाजा के सामने एसएमएपी बिल्डर्स के ऑफिस के पीछे के हिस्से में निर्माण का कार्य चल रहा था।
स्थानीय लोगों की मदद से बुजुर्ग महिला को निकाल कर अस्पताल भेजा गया। बिल्डिंग गिरने से बगल में बने मकान में आग लग गई। जिसके कारण उस पूरे क्षेत्र में अफरा-तफरी मच गई। लोग अपने घर से निकलकर बाहर भागने लगे। यहां पर एनडीआरएफ की टीम को बुलाया गया।
डॉ की बेटी झरना किसी तरह भागकर नीचे आईं। इसके बाद पुलिस ने शकुंतला (90) को सकुशल बाहर निकाला। मकान में आग लगने से कीमती सामान जल गए। अभी तक बिल्डिंग ने किसी के फंसे होने की पुष्टि नहीं हुई है।
एसडीआरएफ की टीम के आने के बाद रेस्क्यू अभियान शुरू होगा। आग लगने की सूचना पर वहां फायर ब्रिगेड की टीम भी पहुंच गई। मकान में डॉ की बेटी झरना और माँ शकुंतला देवी के अलावा नीचे किराए पर रह रहे निजी कंपनी के कर्मचारी थे।
बिल्डिंग गिरने से बगल में बने मकान में लगी आग, एनडीआरएफ की टीम क़ो बुलाया गया। स्थानीय लोगों की मदद से बुजुर्ग महिला क़ो निकाल कर अस्पताल भेजा गया। बिल्डिंग गिरने से बगल में बने मकान में लगी आग, एनडीआरएफ की टीम क़ो बुलाया गया।

डॉ की बेटी झरना किसी तरह भागकर नीचे आईं। इसके बाद पुलिस ने शकुंतला (90) को सकुशल बाहर निकाला। मकान में आग लगने से कीमती सामान जल गए। अभी तक बिल्डिंग ने किसी के फंसे होने की पुष्टि नहीं हुई है। एसडीआरएफ की टीम के आने के बाद रेस्क्यू अभियान शुरू होगा। आग लगने की सूचना पर वहां फायरब्रिगेड की टीम भी पहुंच गई।
एलडीए सचिव एमपी सिंह ने बताया कि बिल्डिंग का ध्वस्तीकरण आदेश हो चुका है। पिछले दिनों इमारत पुलिस कस्टडी में दी गयी थी। अब इमारत को पुरी तरह से गिराया जाएगा। जिसके लिए जेसीबी और डंपर मगाएँ गए हैं। बिल्डिंग के गिरने के कारण वहां की बिजली आपूर्ति भी घंटों से बाधित है।
थाना प्रभारी गोमतीनगर ने बताया गया कि करीब 02:30 बजे दोपहर मे विरामखण्ड-5 मे स्थित अशोक पाण्डेय के मकान 5/21 की दूसरी मंजिल अचानक से गिर गयी। यहां ग्राउण्ड फ्लोर व प्रथम तल बना है व द्वितिय तल पर एक कमरा बना था तथा
देखने से प्रतीत होता है कुछ निर्माण कार्य चल रहा था तथा बांस बल्ली लगी है। मकान के गिरने से बगल वाले मकान 5/20 में शार्ट सर्किट से आग लग गयी थी, जिसको फायर सर्विस की 01 गाड़ी की मदद से बुझा दिया गया था।

यह भी पढ़ें: भाजपा MLA का शिवराज पर बड़ा आरोप- कुत्तों से भी बुरी है भाजपा में विधायकों की औकात

इसमें एक वृद्ध महिला फंसी थी, जिनको सकुशल बचा लिया गया। किसी भी प्रकार की कोई जनहानि नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here