मैं ईमानदार
न्यूज चैनल आजतक के कार्यक्रम साहित्य आजतक में पहुंचे अन्नू कपूर ने कहा, “राम मंदिर निर्माण सर्वोच्च न्यायालय पर छोड़ा देना चाहिए। संविधान ने सुप्रीम कोर्ट को लोगों को न्याय दिलाने का अधिकार दिया है। हमें इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इंतजार करना चाहिए।’
कार्यक्रम में अन्नू कपूर से जल्द राम मंदिर बनाने के लिए कानून लाने का सवाल किया गया तो उन्होंने कहा, मांग कुछ भी हो सकती है और कोई भी कुछ भी मांग कर सकता है। इतना ही नहीं, उन्होंने कहा, मैं भी एक ईमानदार आदमी हूं। मैं मांग करता हूं कि मुझे प्रधानमंत्री बनाओ।
बॉलीवुड के मंझे हुए कलाकार अन्नू कपूर ने प्रधानमंत्री बनाने की मांग की है। हालांकि यह मांग उन्होंने एक तंज के तौर पर की है। एक कार्यक्रम में पहुंचे अन्नू कपूर ने राम मंदिर जल्द बनाने वालों पर निशाना भी साधा है। साथ ही उन्होंने कहा, अयोध्या मामला सुप्रीम कोर्ट पर छोड़ देना चाहिए।
अपनी मांग रखने के बाद उन्होंने पूछा, क्या आप मुझे पीएम बना देंगे? अन्नू कपूर ने इस बात पर फिर कहा कि, मांग तो कुछ भी हो सकती है। हमें राम मंदिर पर इंतजार करना चाहिए। देश में बहती राष्ट्रवाद की धारा पर अन्नू कपूर ने कहा,
नेशनलिज्म का रोना जो सुनाई पड़ता है या टीवी पर डिबेट के दौरान दिखाई पड़ता है, वह अर्थहीन है। ऐसे लोग भगवा, हरा या सफेद लिए होंगे लेकिन तुम तिरंगे के साथ होना। इतना ही नहीं 62 वर्षीय अभिनेता ने कहा,
उन्होंने कभी भी किसी भी चुनाव में मतदान नहीं किया है। मैं सबसे अच्छे को चुनना चाहता हूं। लेकिन इस देश के लोग भ्रष्टाचारियों को चुनते हैं।
बता दें कि, बीते काफी समय से राम मंदिर पर कानून लाने की मांग की जा रही है। केंद्र की बीजेपी सरकार की सहयोगी आरएसएस के मुखिया मोहत भागवत तक मोदी सरकार से कानून लाकर अयोध्या मसलार निपटाने की मांग की थी।
शुक्रवार को बाबा रामदेव ने भी इसी मुद्दे को उठाया था। उन्होंने कहा था कि, “अगर राम मंदिर नहीं बना तो देश में सांप्रदायिक माहौल गरमाएगा, सांप्रदायिक और आपसी भेदभाव बढ़ेगा।
यह भी पढ़ें: पीएम मोदी ने फिर की गलती, सीताराम केसरी को बताया दलित
रामदेव ने कहा, ”मंदिर के लिए समझौते का दौर निकल चुका है।” उन्होंने कहा, संसद मे कानून लाओ और मंदिर बनाओ अभी नहीं तो कभी नहीं की तर्ज पर काम करना होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.