कारोबारी
बिड़ला के शतक की बदौलत बंगाल के खिलाफ मध्यप्रदेश की टीम मैच को ड्रॉ करने में कामयाब रही। बंगाल ने अपनी पहली पारी नौ विकेट के नुकसान पर 510 रनों पर घोषित की थी। इसके बाद मध्य प्रदेश को पहली पारी में 335 रनों पर ढेर कर दिया।
बंगाल ने मध्य प्रदेश को फॉलोऑन दिया और फिर आर्यमन बिड़ला (नाबाद 103) तथा शुभम शर्मा (नाबाद 100) की बदौलता आखिरी दिन अपनी दूसरी पारी में तीन विकेट पर 240 रन बनाते हुए मैच ड्रॉ करा लिया। बिड़ला ने अपनी पारी में 189 गेंदों का सामना किया और
12 चौकों के अलावा एक छक्का लगाया। शुभम ने 134 गेंदें खेलीं और 11 चौकों के साथ एक छक्का भी मारा। इस पारी के बाद बिड़ला ने इस शतक को खास बताया। दरअसल, कोलकाता के ईडन गार्डन्स मैदान पर शतक जड़ने वाले बिड़ला का इस शहर से गहरा नाता है।
आर्यमन के पिता कुमार मंगलम का जन्म इसी शहर में हुआ था और उनके दादा-परदादा ने यही से बिजनेस की शुरुआत की थी। मशहूर उद्योगपति कुमार मंगलम बिड़ला के बेटे आर्यमन बिड़ला ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में अपना पहला शतक जड़ा।
हालांकि, आर्यमन बिड़ला का जन्म मुंबई में हुआ, लेकिन उन्होंने अपने बचपन का काफी समय ईडन गार्डन्स मैदान पर बिताया। आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स की ओर से इस सीजन बिड़ला को डेब्यू करने का मौका भले ही ना मिला हो,
लेकिन उन्हें अजिंक्य रहाणे, जोस बटलर, बेन स्टोक्स और शेन वॉर्न जैसे दिग्गजों से काफी कुछ सीखने को जरूर मिला। मैच के बाद बिड़ला ने कहा, ”ईडन गार्डन्स में इस शतक को लगाना मेरे लिए शानदार रहा, इस शहर से मेरी काफी यादें जुड़ी हुई है।”
बिड़ला ने कहा, ”पिछले चार-पांच सालों से मैं प्रोफेशनल क्रिकेट खेल रहा हूं। अंडर-23 के बाद पिछले साल ओडिशा के खिलाफ मुझे रणजी में डेब्यू करने का मौका मिला।
यह भी पढ़ें: महिला सांसद ने संसद में लहराया अंडरवियर
बंगाल के खिलाफ लगाया गया यह शतक मेरी जगह मध्य प्रदेश की टीम में सुनिश्चित करने का काम करेगी। बता दें कि आर्यमन इस समय बी.कॉम की पढ़ाई कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.