पूरे देश
दिल्ली में बने 1000 घाटों पर छठ व्रती मंगलवार की शाम को छठ महापर्व का पहला अर्घ्‍य दिया। बता दें कि छठ के दौरान श्रद्धालु खासकर महिलाएं डूबते और फिर उगते सूर्य को ‘अर्घ्य’ देती हैं।
जानकारी के मुताबिक, पूर्वांचल के लगभग 40 लाख से ज्यादा लोग दिल्ली रहते हैं और हर साल लाखों लोग छठ की पूजा करते हैं। इसे देखते हुए दिल्ली सरकार ने 1000 घाट बनाए हैं।
छठ के तीसरे दिन श्रद्धालुओं ने उत्‍साह के साथ मंगलवार शाम को डूबते सूर्य को अर्घ्‍य दिया। इसके बाद अगली सुबह उगते सूर्य को अर्घ्य के साथ महापर्व का समापन होगा।
श्रद्धालु अपराह्न काल से ही छठ घाटों पर पहुंचने लगे थे। छठ को लेकर पूरे देश में लोगों के बीच उत्‍साह चरम पर दिखा।
इससे पहले छठ के मौके पर मंगलवार को सार्वजनिक अवकाश है और इस दौरान सभी सरकारी दफ्तर बंद हैं। दिल्ली सरकार की विभिन्न एजेंसियों का कहना है कि चार दिन के इस महापर्व के लिए करीब 1,000 जगहों पर घाट बनाए गए हैं।
छठ को लेकर नदियों व तालाबों के घाट सजे-धजे दिख रहे हैं तो श्रद्धालुओं के आवागमन के लिए सड़कें भी साफ-सुथरी कर दी गईं हैं।
पूर्वी बिहार के कोसी सहित कई इलाकों में अर्घ्‍य देने का सिलसिला पहले शुरू हुआ। इसके बाद धीरे-धीरे हर जगह अर्घ्‍य दिया गया। 
सूर्य की अराधना के महापर्व छठ के अर्घ्य के लिए पूरा बिहार पहले से ही तैयार था। पटना सहित सभी जगह प्रशासनिक व्यस्था भी कर ली गई थी।
पटना में गंगा घाट सहित 41 से अधिक तालाब व्रतियों के लिए तैयार किए गए हैं। बिहार के विभिन्‍न क्षेत्रों में अन्‍य नदियों व तालाबों में भी छठ पूजा के अर्घ्‍य की व्‍यवस्‍था की गई है।
छठ के सांध्‍यकालीन अर्घ्‍य के दौरान मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार पटना में गंगा नदी में स्‍टीमर से निकले। उनके साथ मंत्री नंद किशोर यादव तथा जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के उपाध्‍यक्ष प्रशांत किशोर भी थे।
मुख्‍यमंत्री ने गंगा के घाटों पर हो रहे छठ व्रत की तैयारियों का अवलोकन किया। इस दौरान उन्‍होंने घाट पर मौजूद व्रतियों का अभिवादन भी किया।
राजधानी रांची सहित झारखंड में लोक आस्था के महापर्व छठ श्रद्धा के साथ मनाया जा रहा है। छठ के घाटों पर व्रतियों ने अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्य दिया।
सीएम रघुवर दास छठ के अवसर पर जमशेदपुर के सूर्य मंदिर में संध्या अर्घ्य में शामिल हुए। सीएम ने ट्वीट में लिखा है कि सूर्य देव अपनी असीम ऊर्जा से आप सबके जीवन को प्रकाशवान एवं ऊर्जावान बनाएं, यही कामना करता हूं।
इससे पहले सुबह सीएम ने छठ पर सूर्य मंदिर में भगवान सूर्यदेव की पूजा अर्चना की और शहर के तमाम छठ घाटों का निरीक्षण भी किया।
श्रद्धालुओं ने छठ पूजा के लिए सूर्य को अर्घ्य मंगलवार शाम को दिया गया। इस दौरान कोलकाता के 24, हावड़ा के 17 और राज्य के अन्य हिस्सों में गंगा घाटों पर करोड़ों की संख्या में छठ व्रती
भगवान सूर्य को अर्घ्य देने के लिए उमड़े इनकी सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए पश्चिम बंगाल सरकार ने साफ सफाई और सुरक्षा समेत नदी में सुरक्षित अर्घ्य की पुख्ता व्यवस्था की थी।
प्रत्येक गंगा घाट पर पुलिस की रिवर पेट्रोलिंग टीम तैनात की गई है जो स्पीड बोट के जरिए नदी में गस्ती लगाएंगे ताकि
यह भी पढ़ें: स्पाइसजेट के विमान में एयरपोर्ट पे बड़ा हादसा टला
किसी तरह की कोई अप्रिय घटना नहीं घटे। नगर निगम ने सोमवार शाम तक सभी गंगा घाटों की साफ-सफाई कराई है और घाटों पर रोशनी की पुख्ता व्यवस्था की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here