भाजपा के
देवकीनंदन महाराज ने कहा कि केंद्र और प्रदेश में भाजपा की सरकार के रहते यदि अयोध्या में राम मंदिर नहीं बन पाया तो भविष्य में यह संभव नहीं होगा।

 

उन्होंने कहा कि श्रीराम मंदिर का निर्माण होने से समाज में समृद्घि आएगी, समरसता बढ़ेगी।
रामराज्य तो तभी होगा जब श्रीराम अयोध्या में विराजेंगे। वह रविवार से मोतीझील में कथा कहने आ रहे हैं।
फोन पर हुई बातचीत में देवकीनंदन महाराज ने कहा कि हिंदू समाज को एकजुट करने का यह उचित समय है।
मोदी और योगी की सरकार ऐसा करने में सक्षम है। जनभावना मंदिर के साथ है,
ऐसे में सरकार को जनता की भावनाओं को देखते हुए काम करना चाहिए।
पिछले दिनों केंद्र सरकार के एससी/एसटी आरक्षण को बढ़ावा देने के विरोध में उन्होंने मध्य प्रदेश में जमकर आंदोलन चलाया था।
इस संबंध में जब उनसे पूछा गया कि क्या वह अपने इस अभियान को दूसरे प्रदेश में भी शुरू करेंगे तो वह चुप हो गए।
इस मसले पर उन्होंने कोई राय जाहिर नहीं की। कहा कि वह रविवार को कानपुर आ रहे हैं, वहां लोगों से बातचीत करेंगे।
देश और समाज में सौहार्द बनाने के लिए जो कुछ उनसे बन पड़ेगा करेंगे।
यह भी पढ़ें: पुलिस कप्तान की नही पड़ती जर्जर चौकी पर नजर, हो सकता है कभी भी बड़ा हादसा
11 से 16 नवंबर तक चलने वाली कथा को लेकर मोतीझील में तैयारी पूरी हो चुकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here