केवल आधा
भागदौड़ के बाद जब आप घर पहुंचते हैं तो पूरी तरह थके हुए होते हैं। ऐसे में गर्म पानी में आधा घंटा पैर डुबोकर बैठने से थकान तो मिटेगी ही आप तरोताजा भी महसूस करेंगे।

 

ऐसा करने से घुटने के दर्द एवं मांसपेशियों में खिंचाव कम होगा। रक्त संचार सामान्य होने से थकावट दूर होती है।
ब्लड प्रेशर नियंत्रित होने से मानसिक तनाव दूर होने से अच्छी नींद आती है। जीएसवीएम मेडिकल कालेज के मेडिसिन विभाग में एसोएिसट प्रोफेसर डॉ. सौरभ अग्रवाल ने बताया कि
गर्म पानी में नमक मिलाकर पैर डालकर 20-25 मिनट बैठने से थकान दूर होती है। रक्त संचार बढऩे से आराम महसूस होता है। पैरों की सूजन एवं दर्द में आराम मिलता है।
लो ब्लड प्रेशर और हाई ब्लड प्रेशर के मरीज चिकित्सक से सलाह के बाद ही ऐसा करें।
-रात को सोने से पहले पैरों को गरम पानी में डुबोने से अच्छी नींद आती है।
-शाम 5-7 बजे के बीच गर्म पानी में पैर डुबाने से किडनी की क्षमता बढ़ती है, रक्त संचार बेहतर होता है।
-रातभर एक करवट में सोने से रक्त संचार प्रभावित होता है, ऐसे में सुबह गर्म पानी में पैर डुबोने से ताजगी मिलती है।
– सर्दी-जुकाम होने पर गर्म पानी में ताजी अदरक की जड़ें डालें।
– गठिया की समस्या पर पानी में दालचीनी या काली मिर्च डालें।
– थकान दूर करने के लिए लेवेंडर ऑयल या रोजमेरी (गुलमेंहदी) ऑयल मिलाएं।
– ब्लड प्रेशर लो होने पर गर्म पानी में पैर डुबोने पर बेहोशी आ सकती है।
-मधुमेह रोगी गर्म पानी में पैर रखने से बचें, क्योंकि पैरों की त्वचा जल सकती है।
– तेज भूख लगने या अधिक खाने के बाद पैर गर्म पानी में रखने से बचें। पैरों में सून्नपन की शिकायत वाले भी एहतियात बरतें।
यह भी पढ़ें: अब कॉकरोच, खटमल, दीमक और कीट-पतंगों का हर्बल गोलियों से होगा सफाया
– त्वचा में नमी रहने पर गर्म पानी में पैर डालने से बचें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.