इंजीनियरिंग
गोरखपुर,। तीन सदस्यीय जांच टीम ने अपनी रिपोर्ट मुख्य संरक्षा अधिकारी को सौंप दी है। डोमिनगढ़ स्टेशन यार्ड में बेपटरी हुई बाघ एक्सप्रेस की विभागीय जांच पूरी हो गई है।

 

जांच में इंजीनियरिंग विभाग की गड़बड़ी पाई गई है। फिलहाल बिना ब्लाक लिए ट्रैक पर काम कराने का मामला सामने आया है। लखनऊ मंडल के तीन अधिकारियों पर कार्रवाई की गाज गिर सकती है।
विभागीय सूत्रों के अनुसार 11 अक्टूबर को काठगोदाम से हावड़ा जा रही बाघ एक्सप्रेस डोमिनगढ़ स्टेशन पर बेपटरी हो गई थी।
एसएलआर बोगी के चार पहिए पटरी से उतर गए थे। गनीमत रही कि हादसे में कोई हताहत नहीं हुआ। रेल प्रशासन ने इस घटना की जांच के लिए तीन सदस्यीय टीम गठित कर दी थी।
जांच टीम ने ट्रेन के लोको पायलटों और गार्ड के बयान लेने के बाद एक-एक बिंदुओं की पड़ताल की है।
फिलहाल, हादसा के बाद ही प्रथम दृष्टया दोषी पाए जाने पर रेलवे प्रशासन ने लखनऊ मंडल के सीनियर सेक्शन इंजीनियर को निलंबित कर दिया था।
यह भी पढ़ें: चार जिलों की पुलिस ने छापेमारी कर 72 घंटे में 1030 अपराधी किये गिरफ्तार
अब माना जा रहा है जांच रिपोर्ट के आधार पर जिम्मेदार तीन अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जा सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.