कानपुर
काकादेव कोचिंग में नीट फिजिक्स एक्सपर्ट नाम से कोचिंग चलाने वाले अभिषेक दिवोलिया (35) को मंगलवार शाम को बाइक सवार बदमाशों ने पिस्टल से गोली मार दी।
वह कोचिंग से गोपाला टॉवर (नमक फैक्ट्री चौराहा) स्थित घर के पास पहुंचने के बाद कार पार्क कर उतर रहे थे। उनके चेहरा ऊपर करने से गोली सिर की जगह जबड़े में लगी।
दूसरा फायर करने पर तमंचे पर हाथ मारने से गोली नहीं लगी। उन्होंने शोर मचाते हुए घर में घुसकर जान बचाई। परिजन ने उन्हें रीजेंसी अस्पताल में भर्ती कराया। 
मूल रूप से जालौन के कुसमरा निवासी अभिषेक आइआइटी धनबाद से 2009 में बीटेक करने के बाद शहर में कोचिंग पढ़ा रहे थे।
पिछले साल ही रघुराज की कोचिंग से अलग होकर भदौरिया चौराहे पर संजय चौहान के यहां अपनी कोचिंग खोली थी। मंगलवार को अभिषेक कोचिंग से कार से घर पहुंचे।
जहां पास ही स्थित खाली प्लाट के आगे कार पार्क की थी तभी पीछा करते आए बाइक सवार बदमाशों में से एक ने फायर कर दिया। पहली गोली जबड़े में लगी।
दूसरा फायर करने पर उन्होंने हाथ मार दिया जिससे वह गोली बगल से निकल गई। चीखपुकार और आसपास के लोगों को एकत्र होते देख बदमाश भाग निकले।
गोली लगने पर अभिषेक शोर मचाते हुए घर भागे। जहां उनकी चाची ममता, भाई संजीव, भाभी सुमन, भतीजी तनु व मानसी, चचेरा भाई अनिरुद्ध उन्हें खून से लथपथ देख चीख पड़े।
उन्होंने पड़ोसी युवक की मदद से रीजेंसी अस्पताल में भर्ती करा पुलिस को सूचना दी। देर रात आपरेशन कर गोली निकाल दी गई, उनकी हालत गंभीर बनी है। 
अभिषेक धीरज, राज कुशवाहा और रघुराज के यहां फिजिक्स पढ़ाने के साथ प्राइवेट भी बच्चों की क्लास लेते थे। पिछले साल ही उन्होंने अलग कोचिंग खोली।
उनके किसान पिता संतोष दिवोलिया व मां उर्मिला गांव में रहती हैं। चार भाइयों में सबसे छोटे अभिषेक भाई संजीव व चचेरे भाई अनिरुद्ध संग रहते हैं। दोनों भाई कोचिंग का मैनेजमेंट देखते हैं।
घटना की सूचना मिलते ही कोचिंग संचालकों के बीच चर्चाएं शुरू हो गईं। परिचित रीजेंसी पहुंचे वहीं पुलिस ने मौके पर जांच की। पुलिस को वहां एक खोखा और खून के निशान मिले।
घटनास्थल के पास लगे कैमरे से पुलिस को हमलावरों की फुटेज मिली है। एसपी पश्चिम संजीव सुमन ने कहा कि परिजन ने कोचिंग प्रतिस्पर्धा में हमले की आशंका जताई है।
गोली मारने वाले बाइक सवार युवकों की तलाश में तीन टीमें लगी है।
यह भी पढ़ें: ताली बजाने पर उठते हैं इस तालाब से बुलबुले
सीसीटीवी फुटेज खंगाले जा रहे हैं। कोचिंग संचालक की हालत खतरे से बाहर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.