आम आदमी
नई दिल्ली,। मोदी सरकार को ’लोकतंत्र व भारतीय संविधान के संघीय ढांचे के लिए सबसे बड़ा खतरा’ बताते हुए आम आदमी पार्टी (आप) ने रविवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर ’देश में चुनी हुई सरकारों को पंगु बनाने व उनका दम घोंटने’ का आरोप लगाया।
आप ने एक बयान में कहा, “आप का दृढ़ता से मानना है कि मोदी सरकार लोकतंत्र व भारतीय संविधान के संघीय ढांचे के लिए सबसे बड़ा खतरा है और इसका झूठ देश के लोगों को ज्यादा समय तक मूर्ख नहीं बना सकता।“
केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली की टिप्पणी पर आप ने प्रतिक्रिया दी जिसमें जेटली ने कहा था कि कुछ भी ऐसा नहीं किया जाना चाहिए जिससे चुनी हुई सरकारों के अधिकार खत्म होते हों।
आप ने कहा, “भाजपा व इसके मंत्रियों को चुनी हुई सरकार के महत्व के बारे में उपदेश देने का कोई अधिकार नहीं है।
भाजपा ने करीब पांच साल के कार्यकाल के दौरान चुनी हुई सरकारों व संविधान के नियमों का कैसा मजाक बनाया है, यह उनके निराशाजनक व निंदनीय ट्रैक रिकॉर्ड को दिखाता है।“
पार्टी ने कहा कि यह विडंबनापूर्ण है कि जेटली पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की स्मृति में व्याख्यान दे रहे हैं और ’उन सभी चीजों का समर्थन कर रहे हैं, जिसका दिवंगत वाजपेयी ने पूरे जीवन विरोध किया था।’
आप ने यह भी कहा कि मोदी सरकार ने दो राज्यों की सरकारों को बर्खास्त करने की असफल कोशिश की और
ऐसी कोई गैर भाजपा सरकार देश में नहीं है जिसका मोदी सरकार ने अब तक के सर्वाधिक निर्दयी तरीके से गला घोंटने की कोशिश न की हो।
आप ने कहा, “मोदी के शासन में कैसे देश में चुनी हुई सरकारों को पंगु करने व दम घोंटने की कोशिश की गई, इसका सबसे बड़ा उदाहरण दिल्ली की चुनी हुई सरकार है।“
यह भी पढ़ें: बरेली से तीन करोड़ की हेरोईन के साथ दो तस्कर गिरफ्तार
इंडिया आइडियाज कॉन्क्लेव में यहां प्रथम अटल बिहारी स्मृति व्याख्यान में जेटली ने कहा था कि देश ’किसी संस्थान या सरकार से हमेशा ऊपर है।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.