किसानों
मुरादाबाद, । देश में किसान आयेदिन सड़कों पर उतर रहे है लेकिन यहाँ की सरकार को कोई फर्क नहीं पड़ रहा है। फसलों के भुगतान के लिए रोज सड़कों पर उतरने वाले किसानो का गुस्सा आज सातवे आसमान पर था।

 

गन्ने की फसल को साथ लेकर प्रदर्शन कर रहे किसानों ने यहाँ सरकार को किसानों पर विचार करने की जहाँ नसीहत दी है, वहीँ ऐसा न करने पर कहा की उसके बाद किसान इस सरकार के लिए खुद विचार करने लगेंगे।
गुरूवार को यहाँ भारतीय किसान यूनियन ने जिलाधिकारी कार्यालय पर गन्ने की फसल ले कर पहुचे थे, जहाँ उन्होंने इसका भुगतान करने की मांग करते हुए जमकर प्रदर्शन किया है। 
इस दौरान भारतीय किसान यूनियन के जिला अध्यक्ष महेंद्र सिंह रंधावा ने कहा कि हमारा प्रदर्शन आज कोई नया नहीं है यह पेट की ज्वाला है जो आयेदिन भड़क रही है इसलिए हमें सड़कों पर उतरना पड़ रहा है।
मौजूदा सरकार ने घोषणा की थी कि किसान को खुशहाल कर देंगे लेकिन खुशहाली तो दूर देश के अन्दर आज किसान फांसी लगा रहे है नरेंद्र मोदी ने जो वादा किया वह पूरा नहीं किया गया। 
उन्होंने कहा कि बाढ़ से तमाम फसल का नुक्सान हुआ है पशुओं का सभी चारा नष्ट हो गया जिसके बाद आज हमारे सभी पशु भूखे मर रहे है।
वहीँ दूसरी तरफ उन्होंने यहाँ सरकार से सवाल किया कि अगर अभी यहाँ कोई मंत्री आ जाये तो उसपर करोड़ों रूपये खर्च कर दिए जाते है।
क्या हमारा कोई खर्चा नहीं है हमारे साथ भी बिमारी, खाना, बच्चों की पढाई समेत अनगिनत खर्चे है, उसे हम कैसे पूरा करें। हम अपने पैसे मांग रहे है उसे भी सरकार देने में आनाकानी कर रही है।
हमने बैंक से कर्जा लिया तो उसपर चक्रवृद्धि ब्याज लगाया जा रहा है। जबकि हमारी फसल की कीमतों को देने में कोताही बरत रही है।
सरकार बनने के बाद इन्होंने चीनी मिलों को चालू करवा दिया लेकिन कुछ समय बाद उसे बंद करवा दिया गया।
चीनी मिलें बंद करना इनकी साठ-गाँठ दर्शाता है। यदि इसी माह चीनी मिलें नहीं चालू हुई तो हम बड़ा आन्दोलन करेंगे। 
उन्होंने कहा कि आज हम डीएम कार्यालय पर गन्ना लेकर पहुंचे है जिसका भुगतान हमें किया जाये। साथ ही कल से जो गन्ने की फसल घर में पड़ी है उसे यहीं लाकर डाल जायेंगे।
जिसका भुगतान डीएम को ही करना होगा क्यूकी वही हमारे मुख्यमंत्री है और वही हमारी सरकार है। वह हमारा गन्ना ख़रीदे और हमारा भुगतान करें। 
उन्होंने कहा कि इस सरकार ने हमारे साथ जो अन्याय किया है उसका जवाब आने वाले समय में ज़रूर दिया जायेगा। इनकी सरकार हमने ही बनाई है और किसानो को ही तंग किया जा रहा है।
यहाँ कहा गया कि एक योगी को यहाँ का मुखिया बना दिया जिसे न घर का पता न गृहस्थी का पता, इसलिए वो हमारी तकलीफ क्या समझेंगे।
पिछली सरकार ने भी हमारे साथ अन्याय किया था, वहीँ इस बार की सरकार भी कर रही है।
यह भी पढ़ें: गोरखपुर: डाक्टर से 10 लाख रंगदारी मांगने वाला मदरसा शिक्षक गिरफ्तार
उन्होंने कहा कि यदि अभी भी सरकार नहीं संभली तो आने वाले समय में पता चल जायेगा की किसान की क्या अहमियत है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.