सॉल्वर गैंग
बागपत/बिजनौर। यूपी एसटीएफ और बागपत व बिजनौर पुलिस ने गुरुवार को दो अलग-अलग जगहों पर छापेमारी कर सरकारी नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने वाले गिरोह का भंडाफोड़ किया है।
बागपत में 7 लोगों को गिरफ्तार किया गया, वहीं बिजनौर में सरगना समेत दो ठग गिरफ्तार हुए हैं। एसटीएफ ने इन ठगों के पास से कैश, महत्वपूर्ण दस्तावेज व लग्जरी गाड़यां बरामद की है।
मेरठ एसटीएफ टीम को सूचना मिली थी कि बड़ौत कोतवाली में कुछ लोग बड़े स्तर पर सरकारी नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने का गौरखधंधा चला रहे हैं।
जिसके चलते मेरठ एसटीएफ ने बड़ौत कोतवाली पुलिस के साथ मिलकर क्षेत्र के दिल्ली बस स्टैंड स्थित एक मकान में छापेमारी की और वहां से 7 लोगों को गिरफ्तार किया है।
पकड़े गए लोगों मे जितेंद्र यादव, इस गिरोह का मास्टरमाइंड है। इसके अलावा अजय और अनुज नाम के दो आरोपियों को पकड़ा गया है। अजय लोकनिर्माण विभाग व अनुज दिल्ली मेट्रो में क्लर्क हैं।
मेरठ एसटीएफ टीम को सूचना मिली थी कि बड़ौत कोतवाली में कुछ लोग बड़े स्तर पर सरकारी नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने का गौरखधंधा चला रहे हैं।
जिसके चलते मेरठ एसटीएफ ने बड़ौत कोतवाली पुलिस के साथ मिलकर क्षेत्र के दिल्ली बस स्टैंड स्थित एक मकान में छापेमारी की और वहां से 7 लोगों को गिरफ्तार किया है।
पकड़े गए लोगों मे जितेंद्र यादव, इस गिरोह का मास्टरमाइंड है। इसके अलावा अजय और अनुज नाम के दो आरोपियों को पकड़ा गया है। अजय लोकनिर्माण विभाग व अनुज दिल्ली मेट्रो में क्लर्क हैं।
बड़ौत के इंस्पेक्टर संजीव कुमार ने बताया कि, यह गिरोह अभ्यर्थियों से सरकारी नौकरी दिलाने के नाम पर लाखों रुपए वसूलते थे। एसटीएफ ने गिरोह के पास से तमाम डॉक्यूमेंट व चेक बरामद किए हैं।
इसके अलावा एक गाड़ी भी बरामद की गई है। इस गिरोह के अभी 4 सदस्य फरार हैं। जिनकी तलाश की जा रही है।
यह भी पढ़ें: कारागार सिपाही की बाइक सवार बदमाशों ने दिनदहाड़े गोली मारकर की हत्या
बिजनौर जिले में सीओ चांदपुर राकेश कुमार विश्वजीत ने बताया कि, इस गैंग के सरगना मेरठ जिले के रोहटा थाना इलाके के भदोड़ा गांव निवासी सूरज उर्फ शैलेंद्र मलिक है।
उसके साथ बिजनौर के वीरेंद्र नाम के एक शातिर को पकड़ा गया है। यह लोग ग्राम विकास अधिकारी, पुलिस, सेना, एलटी ग्रेड, एसएससी आदि की परीक्षाओं में पास कराने के नाम पर
झांसा देकर बड़े पैमाने पर ठगी करने का काम करते थे। इनके पास से 1,65,000 नकद कैश, दो लग्जरी गाड़यां, महत्वपूर्ण दस्तावेज व 5 मोबाइल फोन बरामद किए गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.