धारूपुर
बाराबंकी/अंबेडकरनगर। रामसनेहीघाट कोतवाली इलाके के धारूपुर में मंगलवार को हुए विस्फोट के मामले में पुलिस ने दो आतिशबाजी लाइसेंस धारकों समेत छह पर गैर इरादत हत्या का केस दर्ज किया है।
जबकि तीन लाइसेंसियों के लाइसेंस निरस्त कर दिए गए। वहीं, हादसे के करीब 12 घंटे बीत जाने के बाद भी बुधवार को गांव के दूसरे लाइसेंसी सब्बीर के पटाखा निर्माण स्थल पर तेज आवाज के साथ पटाखों में विस्फोट हो गया। जिससे राहुल नाम का युवक घायल हो गया।
धारूपुर गांव में अवैध तरीके से पटाखे बनाने के दौरान मंगलवार शाम एक मकान में विस्फोट हो गया। धमाका इतना तेज था कि आसपास के चार और मकान ढह गए।
हादसे में 2 लोगों की मौत हो गई। वहीं, 6 लोग गंभीर रूप से जख्मी हुए। मंगलवार रात शुरू हुए राहत बचाव का कार्य बुधवार देर शाम तक जारी रहा।
प्रशासन की ओर से पूरे गांव में विस्फोटकों की तलाशी का अभियान चलाया गया। करीब एक टन विस्फोटक सामग्री मिली है।
वारदात के दूसरे दिन सुबह प्रशासन तब दंग रह गया, जब इसी गांव में गांव के बाहर झोपड़ी में विस्फोट होने शुरु हो गए। प्रशासन ने तत्काल अग्निशमन दल बुलाकर आग पर काबू पाया।
ग्रामीणों ने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए रोड जामकर प्रदर्शन शुरू कर दिया। डीएम उदयभानु त्रिपाठी व एसपी डॉ सतीश कुमार पीएसी के साथ गांव पहुंचे।
डीएम ने तत्काल बम डिस्पोजल कंपनी व डॉग स्कॉयड बुलाकर गांव के सभी मकानों व गांव के बाहर के हिस्सों में जमकर तलाशी का अभियान शुरु कराया तो पटाखे का जखीरा बरामद हुआ है।
रामसनेहीघाट पुलिस ने धारूपुर गांव के निवासी अब्दुल कादिर की तहरीर पर गांव के पटाखा निर्माण लाइसेंसी हसीब, सब्बीर, हारुन, अइया, सबलू, बब्बलू के खिलाफ गैर इरादत हत्या व अवैध रूप से विस्फोटक सामग्री आबादी के मध्य रखने का मुकदमा दर्ज किया है।
अभियान के दौरान बम डिस्पोजल कंपनी के एक्सपर्ट को गांव के सात मकानों में पटाखे मिले। खेतों में भारी मात्रा में छिपाए गए पटाखे व विस्फोटक सामग्री को बरामद किया गया है।
यहां पर करीब एक टन विस्फोटक सामग्री मिली है। अन्य मकानों में तलाशी का अभियान शुरु किया गया है। यह अभियान जारी है।
डीएम उदयभानु त्रिपाठी ने बताया कि हादसे की मजिस्ट्रेटी जांच एडीएम वित्त एवं राजस्व संदीप कुमार गुप्ता करेंगे। डीएम ने बताया कि तीन लोगों को गांव के बाहर पटाखा बनाने का लाइसेंस मिला था।
उसके बाद भी ये लोग आबादी के अंदर पटाखा बना रहे थे। मजिस्ट्रेटी जांच पूरी होने पर कार्रवाई की जाएगी। इसके साथ ही जिले की सभी 66 लाइसेंसी दुकानों की भी जांच शुरू हो गई है।
वहीं, अंबेडकरनगर जिले के आलापुर थाना इलाके के रामनगर बाजार के मसेना मिर्जापुर में एक मकान में बुधवार को सीओ राम प्रवेश राय व एसडीएम ने पुलिस के साथ छापेमारी की तो
मौके से करीब डेढ़ कुंतल से अधिक बारूद व पटाखे बरामद हुए हैं। इस दौरान मौके से भाग रहे एक आरोपित आफताब को पुलिस ने दबोच लिया।
एडिशनल एसपी अशोक कुमार राय ने बताया कि मौके पर मिले बारूद को नष्ट करने के निर्देश दिए गए है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.