गंगा पर मंथन करने एवं गंगा घाटों का निरीक्षण करने कानपुर पहुंचे पीएम मोदी पर अखिलेश यादव ने निशाना साधा है।
अखिलेश बोले ‘सुना है प्रधान जी गंगा की स्वच्छता व प्रदूषण मुक्ति के लिए कानपुर में बड़ी बैठक कर रहे हैं।
वहां निरीक्षण के समय फिर से गंगा में गिरने वाले नालों का मुख मोड़कर ‘नकली सफाई’ को झूठ का चश्मा पहनाया जाएगा।
सलाह है कि
प्रधान जी पहले भ्रष्टाचार का गोमुख साफ करें तब कानपुर पहुंचें।’
वहीं पीएम मोदी के कानपुर पहुंचते ही सपाईयों ने काली पट्टी बांध कर उनका विरोध किया।
मौके पर पहुंची पुलिस ने सपाईयों को हिरासत में ले लिया है।
प्रधानमंत्री के कानपुर आगमन पर आर्यनगर विधायक अमिताभ बाजपेयी के द्वारा मजदूरों की बेरोजगारी बेबसी,
स्मार्ट सिटी के नाम पर बदहाली एवं नमामि गंगे की नकामी तथा बंद टैनरी उद्योग के मुद्दों पर कुर्ता फाड़कर अर्धनग्न प्रदर्शन किया।

Also read : अखिलेश यादव मिले उन्नाव दुष्कर्म कांड की पीड़िता के परिजनों से, किया मदद का वादा

रेवथ्री चौराहे से प्रदर्शन करते हुए भैरोघाट की तरफ भागे, वहां से पुलिस उन्हें गिरफ्तार कर पुलिस लाईन ले गई।
इस दौरान कंपनी बाग चौराहे पर भाजपा और सपा कार्यकर्ताओं में तीखी झड़प भी हुई।

आपको बताते चलें कि

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कानपुर पहुंच गए हैं।
कानपुर पहुंचने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्वागत किया।
इसके बाद पीएम मोदी हेलीकॉप्टर से सीएसए कॉलेज पहुंचे।
चंद्रशेखर आजाद की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने के बाद पीएम मोदी सीएम योगी के साथ पैदल ही मीटिंग रूम तक पहुंचे।
बैठक में गंगा की निर्मलता और अविरलता पर मंथन किया जा रहा है।
बैठक में दो राज्यों यूपी और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री, बिहार, यूपी के उप मुख्यमंत्री,
केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत के अलावा
गंगा किनारे स्थित सभी पांच राज्यों के कई मंत्री, मुख्य सचिव,
प्रमुख सचिव और एनएमसीजी के महानिदेशक राजीव रंजन मिश्र सहित 40 से अधिक प्रमुख लोग मौजूद हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.