गुरूवार 23 मई 2019 का पंचांग

🔮 शक संवत 1941 माह ज्येष्ठ पक्ष कृष्ण तिथि पंचमी नक्षत्र उषा. सूर्योदय 5.27 सूर्यास्त 7.07

⚛ शुभ मुहूर्त
वाहन, मशीन, व्यापार, विवाह, सगाई, मुंडन, गृहप्रवेश से संबंधित कोई शुभ मुहूर्त नहीं हैं।

आज ज्येष्ठा कृष्ण पक्ष की षष्ठी तिथि और शुक्रवार का दिन है। आपको बता दें कि प्लूटो को धनु राशि में वक्री हुए आज पूरे 30 दिन हो चुके हैं। जी हां, बीते 24 अप्रैल को रात 12 बजकर 15 मिनट पर प्लूटो धनु राशि में वक्री हुआ था, जो कि अभी भी अपनी वक्री स्थिति में ही है।

प्लूटो 3 अक्टूबर तक धनु राशि में ही वक्री होकर रहेगा। उसके बाद फिर से धनु राशि में मार्गी हो जायेगा और फिर 25 फरवरी, 2020 को दोपहर पहले 11 बजकर 33 मिनट तक धनु राशि में ही रहेगा।

पहली बार नहीं है कि प्लूटो धनु राशि में वक्री हुआ है। इससे पहले भी 22 अप्रैल, 2018 को रात 08 बजकर 56 मिनट पर प्लूटो धनु राशि में वक्री हुआ था और 3 अक्टूबर, 2018 की सुबह 07 बजकर 34 मिनट तक ये वक्री ही था।

उसके बाद फिर से धनु राशि में मार्गी हो गया था। लिहाजा ये दूसरी बार है जब प्लूटो धनु राशि में वक्री हो रहा है। उस समय प्लूटो के धनु राशि में वक्री होने से आपके जीवन पर क्या असर होगा, ये भी हमने आपको बताया था और

अब आज से लेकर 3 अक्टूबर तक, यानी लगभग 4 महीने 11 दिनों तक प्लूटो के इस परिवर्तन का आपके ऊपर क्या असर होगा इस दौरान निगेटिव सिचुएशन से बचने के लिये और पॉजिटिव सिचुएशन का लाभ पाने के लिये आपको क्या उपाय करने चाहिए।

प्लूटो का खास परिचय, अब बात करेंगे धनु राशि में व्रकी प्लूटो के विभिन्न राशियों पर पड़ने वाले प्रभाव और उस स्थिति में किये जाने वाले उपायों।

🐑 मेष राशि – वक्री प्लूटो आपके नवें भाव में गोचर करेगा। वक्री प्लूटो के इस गोचर से तंत्र-मंत्र संबंधी विद्याओं को सिखने में और धर्म के प्रति आपकी आस्था बढ़ेगी। साथ ही आपको आर्थिक रूप से लाभ होगा। इस बीच आप अपने विचारों को अधिक महत्व देंगे, लेकिन किसी चीज़ के प्रति अधिक विचार करना आपके मानसिक तनाव को बढ़ा सकता है।

हालांकि इस दौरान पैराशूटिंग या जम्पिंग में आपका इंटरेस्ट बढ़ेगा और आज से 3 अक्टूबर के बीच आप किसी महत्वपूर्ण हवाईयात्रा के लिये भी जा सकते हैं। लिहाजा 3 अक्टूबर तक शुभ स्थिति सुनिश्चित करने के लिये प्रतिदिन केसर का तिलक लगाएं और संभव हो तो शरीर पर सोने का कोई आभूषण पहनें।

🐂 वृष राशि – वक्री प्लूटो आपके आठवें भाव में गोचर करेगा। इस गोचर से आपकी बौद्धिक क्षमता अच्छी होगी। बिजनेस के मामले में आपके फैसले कारगर सिद्ध होंगे। ज्योतिष, धर्मशास्त्र और हस्त रेखा से जुड़े ज्ञान को सीखने में आपकी रुचि बढ़ेगी। अगर तंत्र-मंत्र सीखने में भी कुछ रुचि है तो आसानी से आपको सिद्धि मिलेगी।

लेकिन 3 अक्टूबर तक आपको कुछ चीज़ों का ध्यान रखने की भी जरूरत है। आपको इस दौरान दूसरों को हिसाब से पैसा खर्च करने के लिये देना चाहिए। इस दौरान आपको कुछ ऐसी बात परेशान कर सकती है, जो आपको अपनों के अलावा किसी दूसरे से पता चलेगी।

लिहाजा 3 अक्टूबर तक वक्री प्लूटो की शुभ स्थिति सुनिश्चित करने के लिये और किसी भी तरह की विपरित सिचुएशन से बचने के लिये बहते पानी में चार कच्चे नारियल प्रवाहित करें। इससे आपकी स्थिति अच्छी रहेगी।

👨‍❤‍👨 मिथुन राशि – वक्री प्लूटो आपके सातवें भाव में गोचर करेगा। वक्री प्लूटो का ये गोचर आपको ताकतवर बनायेगा। आप सब कुछ अपने कंट्रोल में करने की कोशिश करेंगे। यहां तक कि आप अपने जीवनसाथी और अपने साझेदार को भी अपनी हां में हां कहने के लिये मजबूर कर सकते हैं,

लेकिन सबके साथ तालमेल बनाकर चलने में ही समझदारी है। आपके व्यवहार पर ही आपकी सामाजिक प्रतिष्ठा भी टिकी हुई है। लिहाजा 3 अक्टूबर तक वक्री प्लूटो की अशुभ स्थिति से बचने के लिये और

शुभ स्थिति सुनिश्चित करने के लिये एक पानी से भरा बर्तन लेकर, उसमें 43 दिनों तक रोज़ एक रुपये का सिक्का डालें। 43 दिन बाद उन सिक्कों को निकालकर अपने पास रख लें और पानी को घर के बाहर मिट्टी में डाल दें। इससे आपकी प्रतिष्ठा बनी रहेगी।

🦀 कर्क राशि – वक्री प्लूटो आपके छठे भाव में गोचर करेगा। वक्री प्लूटो का ये गोचरआपकी वर्क एबिलिटी बढ़ाने में मदद करेगा। साथ ही सामाजिक स्तर पर आपकी मान-प्रतिष्ठा भी बनी रहेगी। कार्यक्षेत्र पर आप सबकी नजरों में रहकर काम करना चाहेंगे।

इस दौरान किसीभी परेशानी से बचने में मेडिटेशन आपको बहुत लाभ देगा। 3 अक्टूबर तक आपको अपने शत्रुओं से सावधान रहना चाहिए। कोई आपके लिये परेशानी खड़ी करने की कोशिश कर सकता है।

अतः3 अक्टूबर तक हर तरह की परेशानी से बचने के लिये और अपनी कार्य क्षमता बनाये रखने के लिये भाई-बहनों के साथ प्यार बनाकर रखें और 3 अक्टूबर तक कुछ सिक्के या काले कांच कीगोली अपने पास जरूर रखें। इससे आपको लाभ मिलेगा।

🦁 सिंह राशि – वक्री प्लूटो आपके पांचवें भाव में गोचर करेगा। वक्री प्लूटो के इस गोचर सेआप प्रैक्टिकल चीज़ों पर ज्यादा फॉक्स करेंगे। इस दौरान आपको मशीनों से एक अलग ही प्यार होगा, लेकिन ये भी उतना ही सच है कि आप किसी भी चीज़ से बस उतना ही लगाव रखेंगे,जितने में आपका काम हो जाये।

उसके अलावा आपको किसी चीज़ से कोई मतलब नहीं होगा। 3 अक्टूबर तक आपको अपने स्वास्थ्य का ख्याल रखने की जरूरत है। संतान के मामले मेंप्लूटो का ये गोचर बड़ा ही लाभदायक सिद्ध होगा। अगर आपकी संतान आई.टी क्षेत्र से जुड़ी है, तो उसे नौकरी के लिये विदेश से ऑफर मिल सकता है।

अतः 3 अक्टूबर तक वक्री प्लूटो केशुभ फल पाने के लिये और अशुभ फलों से बचे रहने के लिए चांदी से बना हाथी घर में रखें या फिर घर के प्रवेश द्वार की दहलीज पर कपड़ा बिछाकरउसके नीचे चांदी का पतरा, यानी छोटा-सा चौकोर टुकड़ा दबाएं। इससे आपको और आपकी संतान, दोनों को लाभ होगा।

👰🏻 कन्या राशि – वक्री प्लूटो आपके चौथे भाव में गोचर करेगा। इस गोचर से कार्यस्थल परआपका वर्चस्व बढ़ेगा। आपको नई चीज़ों को सीखने का मन करेगा। साथ ही आज से 3 अक्टूबर के बीच आपको नये वाहन और भवन का सुख मिल सकता है। आपको काम की कई बड़ीजिम्मेदारियां भी मिल सकती हैं, जिन्हें आप बखूबी निभायेंगे।

अतः वक्री प्लूटो के शुभ फल सुनिश्चित करने के लिये — 3 अक्टूबर तक चांदी की कोई चीज़ पहनकर रखें और 400 ग्राम सूखा धनिया बहते पानी मेंप्रवाहित करें। इससे आपको हर तरह का सुख मिलेगा।

⚖ तुला राशि – वक्री प्लूटो आपके तीसरे भाव में गोचर करेगा। वक्री प्लूटो के इस गोचर से आपके अन्दर नयी चीज़ों को सीखने की इच्छा जागेगी। आप किसी रिसर्च या दिमागी रूप से अधिक मेहनत वाले कार्यों की तरफ आकर्षित होंगे। साथ ही जासूसी वाले कामों में भी आपकी रुचि रहेगी।

लेकिन इस दौरान आपको अधिक गुस्सा भी आ सकता है। किसी काम में रुकावट आने पर आप जल्दी परेशान हो सकते हैं। 3 अक्टूबर तक भाई-बहनों से विरोध आपको भारी पड़ सकता है। बेहतर होगा इस दौरान अपना कुछ समय लेखन में बिताएं। इससे आपको अच्छा लगेगा।

साथ ही वक्री प्लूटो के शुभ फल सुनिश्चित करने के लिये और अशुभ फलों से बचने के लिये सफेद चीज़ों का दान करें। साथ ही ध्यान रहे कि इस दौरान हाथी के दांत से बनी कोई चीज़ या उसका चित्र घर पर न रखें। ऐसा करने से आपको किसी तरह की निगेटिव सिचुएशन का सामना नहीं करना पड़ेगा।

🦂 वृश्चिक राशि – वक्री प्लूटो आपके दूसरे भाव में गोचर करेगा। इससे आपका कोष संचित होगा, यानी आपकी पैसों की स्थिति अच्छी रहेगी। आपके परिवार में बढ़ोतरी होगी। आप धैर्य और पूरी मेहनत से अपना काम करेंगे। साथ ही किसी भी काम को करने में आपको परेशानी महसूस नहीं होगी।

अगर आपकी तरक्की का एक रास्ता बंद होता भी है, तो आप तुरंत दूसरा रास्ता ढ़ंढने लग जाएंगे, लेकिन इस दौरान एक बात का ख्याल रखें कि किसी भी चीज़ की अति अच्छी नहीं होती है। इसलिए 3 अक्टूबर तक जो भी करें या सीखें, उसे दूसरों के साथ जरूर बाटें।

चीज़ों को अपने तक सीमित न रखें। साथ ही वक्री प्लूटो के अच्छे परिणाम हासिल करने के लिये और किसी भी बुरे परिणाम से बचे रहने के लिये 3 अक्टूबर तक चांदी की ठोस गोली अपने पास रखें और अपनी माता से प्रेम-पूर्वक व्यवहार बनाये रखें। इससे आपके पास धन-धान्य बना रहेगा।

🏹 धनु राशि – वक्री प्लूटो आपके पहले भाव में गोचर करेगा। वक्री प्लूटो के इस गोचर का सबसे ज्यादा लाभ धनु राशि वालों को ही मिलेगा। क्योंकि प्लूटो धनु राशि में ही वक्री हो रहा है। आपको बता दूं कि प्लूटो के इस गोचर से आपकी छठी इन्द्रि में इजाफा होगा, आपका पिनियल ग्लैंड अच्छा रहेगा।

लेकिन आज से 3 अक्टूबर तक के बीच आपको समय-समय पर अपने सिरेटोनिन और मिलेटोनिन कैमिकलस के रेशियो को चैक कराते रहना चाहिए। इस दौरान आपकी इच्छाशक्ति मजबूत होगी। आप किसी भी काम को करने के लिये हमेशा तैयार रहेंगे।

आपके अन्दर सोचने-समझने की शक्ति का विस्तार होगा। साथ ही दूसरे लोग आपकी तरफ आकर्षित होंगे। अतः 3 अक्टूबर तक अच्छी स्थिति सुनिश्चित करने के लिये काले या नीले रंग के कपड़े पहनना अवॉयड करें। साथ ही बिल्ली की जेर नारंगी रंग के कपड़े में बांधकर अपने पास रखें। इससे आपको काफी लाभ मिलेगा।

🐊 मकर राशि – वक्री प्लूटो आपके बारहवें भाव में गोचर करेगा। वक्री प्लूटो के इस गोचर से आकर्षण या सम्मोहन क्रिया में आपकी रुचि बढ़ेगी। आप दूसरों के रहस्यों को जानने के लिये उत्सुक रहेंगे, लेकिन आपको किसी तरह के आडंबर के जाल में फंसने से बचना चाहिए।

3 अक्टूबर तक बिना सोचे-समझे किये कामों के रिजल्ट से आप परेशान हो सकते हैं। आपको स्लीप एपनीया की बीमारी हो सकती है। इस बीमारी में आपको अजीबोगरीब सपने आयेंगे और आपको खर्राटे लेने की आदत भी पड़ सकती है। लिहाजा 3 अक्टूबर तक वक्री प्लूटो की अशुभ स्थिति से बचने के लिये और

शुभ फल सुनिश्चित करने के लिये आपके घर में जहां पर भोजन बनता है, आपको वहां बैठकर भोजन करना चाहिए। साथ ही 3 अक्टूबर तक रात को सोते समय अपने सिरहाने पर थोड़ी-सी सौंफ रखें और सुबह उठकर उसे खा लें। इससे आपकी सेहत अच्छी रहेगी और आपको किसी तरह की परेशानी नहीं होगी।

⚱ कुंभ राशि – आपके ग्यारहवें भाव में वक्री प्लूटो के इस गोचर से आपके पास भौतिक साधनों की कोई कमी नहीं होगी। आपकी योग्यत में बढ़ोतरी होगी। आप समाज की भलाई के काम के लिये अग्रसर रहेंगे। इस दौरान बहुत-से लोग आपका मित्र बनने की कोशिश करेंगे, लेकिन आपको सोच-समझकर ही दोस्ती का हाथ आगे बढ़ाना चाहिए।

3 अक्टूबर तक आपको जीवन के हर युद्ध में विजय मिलेगी। लिहाजा 3 अक्टूबर तक हर तरह से अच्छी स्थिति सुनिश्चित करने के लिये मस्तक पर केसर का तिलक लगाएं। साथ ही कोशिश करके 3 अक्टूबर तक चांदी के गिलास में पानी पिएं। इससे आपकी स्थिति अच्छी बनी रहेगी।

🐬 मीन राशि – वक्री प्लूटो आपके दसवे भाव में गोचर करेगा। प्लूटो के इस गोचर से आपको करियर में थोड़ी परेशानी हो सकती है। जॉब में कोई संवेदनशील स्थिति बन सकती है। दूसरे लोग आपके व्यक्तित्व को प्रभावित करने की कोशिश करेंगे। आपको अपने काम के प्रति विश्वास बनाये रखने की जरूरत है।

इस दौरान भावुक होकर कोई निर्णय न लें और 3 अक्टूबर तक किसी और से मदद की आशा न रखें, तो ही अच्छा होगा। साथ ही वक्री प्लूटो के अशुभ प्रभावों से बचने के लिये और अच्छे फल सुनिश्चित करने के लिये 3 अक्टूबर तक अपना सिर ढक्कर रखें। इससे आपको लाभ मिलेगा।

ज्योतिर्विद पं उमाकान्त दुबे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.